Meri Bitiya

Monday, Jan 18th

Last update02:57:01 PM GMT

मेरी बिटिया डॉट कॉम अगर आपको पसंद हो, आप इस पोर्टल के लिए सुझाव, समाचार, निर्देश, शिकायत वगैरह भेजने के इच्‍छुक हों तो meribitiyakhabar@gmail.com पर हम आपकी प्रतीक्षा कर रहे है.

Advertisement

पत्रकार आंदोलन स्‍थगित। कोतवाल सस्‍पेंड, सीओ का तबादला

: निकाय चुनाव की मतगणना के दौरान बनाये गये मीडिया सेंटर पर पुलिस लाठीचार्ज का मामला : देर रात देवरिया पहुंचे आईजी मोहित, सभी पक्षों से वार्तालाप : सीओ के बदले कार्यक्षेत्र की पूरी जानकारी अस्‍पष्‍ट :

गौरव कुशवाहा

देवरिया : पत्रकारों पर बर्बर लाठीचार्ज के मामले में देवरिया शहर के कोतवाल को मुअत्‍तल कर दिया गया है। इतना ही नहीं, इस हमले में पुलिस क्षेत्राधिकारी का सर्किल भी बदल दिया गया है। पुलिस विभाग के बड़े अफसरों की बैठक में यह फैसला लिया गया है। प्रशासन के इस निर्णय के बाद पत्रकारों ने अपने आंदोलन फिलहाल स्‍थगित कर दिया है।

पत्रकारिता से जुड़ी खबरों को देखने के लिए निम्‍न लिंक पर क्लिक कीजिए:-

पत्रकार पत्रकारिता

ज्ञातव्‍य है कि निकाय चुनाव में मतगणना के दौरान प्रशासन द्वारा पाण्‍डाल बनाया गया था। इसी पाण्‍डाल में मीडियाकर्मियों के लिए एक खास सेल भी स्‍थापित की गयी थी, जहां जिले भर के पत्रकार इस मतगणना की पल-पल की जानकारी अपने-अपने संस्‍थानों तक भेज सकते थे। जानकारी के दौरान मतगणना के दौरान अचानक ही बिना वजह पुलिस के क्षेत्राधिकारी और कोतवाल के नेतृत्‍व में पुलिसवालों ने हमला कर वहां मौजूद पत्रकारों पर लाठीचार्ज कर पूरे पाण्‍डाल को तहस-नहस कर दिया था। इस हमले में जिले के वरिष्‍ठ पत्रकार चंद्रप्रकाश पाण्‍डेय को गम्‍भीर चोटें आयी थीं। उनके सिर पर आठ टांके लगाये गये थे।

आईपीएस अफसरों से जुड़ी खबरों को देखने के लिए क्लिक कीजिए:-

बड़ा दारोगा

इसके अलावा वहां मौजूद कई अन्‍य मीडियाकर्मियों को भी पुलिस ने बुरी तरह पीटा था, जिसमें तीन को काफी चोटें आयीं। इतना ही नहीं, इस पुलिस हमले में वहां मौजूद कई अधिवक्‍ता भी बुरी तरह घायल हुए थे। इस लाठीचार्ज के चलते पूरे पाण्‍डाल में अफरा-तफरी मच गयी थी, और दहशत का माहौल बन जाने के चलते मतगणना भी कुछ देर के लिए स्‍थगित हो गयी थी। इस हादसे के बाद पुलिसवालों के खिलाफ पत्रकारों ने आंदोलन छेड़ने का फैसला लिया था। जबकि वकीलों ने भी इस मामले में अपनी रणनीति भी बनायी थी।

देवरिया से जुड़ी खबरों को देखने के लिए निम्‍न लिंक पर क्लिक कीजिए:-

देवारण्‍य

शर्मनाक बात तो यह है कि इस हादसे की गम्‍भीरता को देखते हुए परिक्षेत्र के आईजी मोहित अग्रवाल शनिवार की देर रात देवरिया पहुंचे, लेकिन इसके पहले तक देवरिया के कप्‍तान अपने सरकारी और अन्‍य वाट्सऐप समूहों पर इस लाठीचार्ज पर ठहाके लगाते हुए शेर-ओ-शायरी में मस्‍त रहे। लेकिन डीआईजी के आगमन के बाद सभी पक्षों को बुला कर वार्ता की आईजी ने। इस के बाद तय हुआ कि इस मामले में कोतवाल और सीओ प्रथमदृष्‍टया दोषी हैं। इसलिए कोतवाल राय साहब यादव को तो तत्‍काल निलम्बित कर दिया गया, जबकि पुलिस क्षेत्राधिकारी संदीप सिंह का अधिकार-क्षेत्र बदल दिया गया है।

उधर पत्रकार गोविंद मौर्या ने खबर दी है कि आईजी के इस फैसले के बाद देर रात पत्रकारों ने अपने आंदोलन को फिलहाल स्‍थगित करने का फैसला लिया है।

Comments (1)Add Comment
...
written by ओ पी, December 03, 2017
मोहित अग्रवाल आई जी है। वे ही शनिवार की रात मे देवरिया आए थे।
जबकि डी आई जी के पद पर नीलाब्जा चौधरी है।
धन्यवाद

Write comment

busy