Meri Bitiya

Thursday, Apr 22nd

Last update02:57:01 PM GMT

मेरी बिटिया डॉट कॉम अगर आपको पसंद हो, आप इस पोर्टल के लिए सुझाव, समाचार, निर्देश, शिकायत वगैरह भेजने के इच्‍छुक हों तो meribitiyakhabar@gmail.com पर हम आपकी प्रतीक्षा कर रहे है.

Advertisement

एसपी ने वकीलों को गालियों से तौला और चटकायीं लाठियां, अब हड़ताल

: डीएम के सामने ही तहसील दिवस पर दबंगों के खिलाफ कार्रवाई को लेकर पहुंचे थे कई वकील : वकीलों की बात सुनने के पहले ही कप्‍तान राकेश शंकर ने गालियां देना शुरू कर दिया : जमीन पर कब्‍जा की घटनाएं बेहद तेजी से जा रही हैं आजकल :

कुमार सौवीर

देवरिया : क्‍या कोई यकीन मानेगा कि वकीलों के भारी मौजूदगी के बावजूद जिले का पुलिस अधीक्षक अधिवक्‍ताओं को गालियां दे, और निपटने की धमकी दे दे। इतना ही नहीं, जब वकील इस बात पर नाराज हो जाएं तो पुलिस के बल पर पूरे कलेक्‍ट्रेट परिसर में लाठियां चटकाना शुरू कर दे। हालत इतनी बिगड़ जाए कि सारे वकील कलेक्‍ट्रेट का बहिष्‍कार कर बैठें और फैसला कर लें कि कप्‍तान पर कार्रवाई न होने तक यह बहिष्‍कार-आंदोलन जारी ही रहेगा।

देवरिया से जुड़ी खबरों को देखने के लिए निम्‍न लिंक पर क्लिक कीजिए:-देवारण्‍य

यकीन नहीं आया है न आपको। लेकिन सच यही है। यह घटना है देवरिया की, और यह कप्‍तान है राकेश शंकर। वही राकेश शंकर, जिसकी कुख्‍याति लखनऊ से लेकर उरई से होते हुए सिद्धार्थनगर और देवरिया तक कौंध रही है। फिलहाल तो कप्‍तान राकेश शंकर की करतूतों से व्‍यथित और आक्रोशित वकीलों ने पूरे कलेक्‍ट्रेट में सरकारी कामकाज का बहिष्‍कार कर रखा है। वकीलों का साफ ऐलान है कि जब तक राकेश शंकर पर कड़ी कार्रवाई नहीं की जाएगी, वे अपना बहिष्‍कार-आंदोलन जारी ही रखेंगे। कलेक्‍ट्रेट पर वकीलों का धरना जारी है।

आईपीएस अफसरों से जुड़ी खबरों को देखने के लिए क्लिक कीजिए:-बड़ा दारोगा

ज्ञातव्‍य है कि आज मंगलवार को तहसील दिवस के दिन जिलाधिकारी की अध्‍यक्षता में जन-सुनवाई का काम चल रहा था। कई फरियादी अपनी जमीन पर हुए कब्‍जों को छुड़ाने की फरियादें लेकर आये थे। उनके साथ ही साथ कई अन्‍य वकील भी इस तहसील दिवस पर आये थे जो जमीन कब्‍जों से पीडि़त थे और अपनी बात डीएम तक पहुंचाना चाहते थे। इनमें वरिष्‍ठ और अधिवक्‍ताओं के नेता नर्वदा गुप्‍ता का भी मामला था, जिनकी जमीन पर दबंगों ने कब्‍जा कर रखी है, लेकिन पुलिस उस पर कोई भी कार्रवाई नहीं कर रही है।

राकेश शंकर की पूरी कहानी सुनने के लिए निम्‍न लिंक पर क्लिक कीजिए:-

अनाथ बच्चियों को गुर्राते हुए धमका रहा है एसपी-क्राइम, कि बाहरी बदमाशों को बुला कर तेरा हाथ-पैर तुड़वाऊंगा

सूत्र बताते हैं कि तहसील दिवस के शुरूआत से ही राकेश शंकर ने अपना दबंग चरित्र वाला प्रदर्शन करना शुरू कर दिया था। अचानक एक वकील और जिला कलेक्‍ट्रेट बार एसोसियेशन के चार बार तक अध्‍यक्ष रहे नर्वदा गुप्‍ता के मामले में भी राकेश शंकर ने उनसे बदतमीजी करनी शुरू कर दी। इस पर वहां मौजूद अन्‍य वकील इस पर नाराज हो गये, और उन्‍होंने डीएम से इस बारे में शिकायत करनी शुरू कर दी। लेकिन इसके पहले ही कि वकील अपनी बात कह पाते, कप्‍तान राकेश शंकर ने पुलिस बल बुला लिया और लाठियां लेकर कलेक्‍ट्रेट पर मौजूद लोगों पर लाठियां चटकाना शुरू कर दिया।

पत्रकारिता से जुड़ी खबरों को देखने के लिए निम्‍न लिंक पर क्लिक कीजिए:-

पत्रकार पत्रकारिता

Comments (0)Add Comment

Write comment

busy