पंचायत का फैसला: बलात्कार का दोष गंगा में धो लो

दहला पंचायत का फैसला, पहले था बकरा-भात का जुर्माना

सोनभद्र : पंचायत एक बार फिर अपने फैसले को लेकर चर्चा में है। बभनी क्षेत्र के मचबंधवा गांव की पंचायत ने बुधवार को एक दुष्कर्मी को काशी में गंगा स्नान कर प्रायश्चित करने की सजा सुनाई है।

गांव में सोमवार को एक युवक को दुष्कर्म के आरोप में ग्रामीणों ने पकड़ लिया। मामले को लेकर गांव में पंचायत बैठी। आरोपी को पुलिस के हवाले करने की बजाए पंचायत ने सुझाव दिया कि आरोपी काशी जाए और गंगा में डुबकी लगाकर अपने पापों का प्रायश्चित कर ले।

बात लोगों के गले नहीं उतरी और विरोध शुरू हो गया। मंगलवार को फिर पंचायत बैठी और इस बार दुष्कर्मी युवक पर बकरा-भात का जुर्माना ठोंका गया। इस बार बात मीडिया तक पहुंच गई।

आनन-फानन फिर पंचायत बुलाई गई और युवक पर लगाया गया बकरा भात का जुर्माना वापस ले लिया गया और नया फरमान जारी किया गया कि दुष्कर्मी युवक काशी जाए और गंगा स्नान कर अपना पाप धो ले।